दिल्ली यूनिवर्सिटी ने एलपीयू कैंपस में एआईयू की नार्थ जोन इंटर यूनिवर्सिटी बैडमिंटन (महिला) चैंपियनशिप ट्रॉफी जीती 

  • पंजाब विश्वविद्यालय (चंडीगढ़) ने रनर अप और पंजाबी विश्वविद्यालय (पटियाला) को सेकंड रनर अप घोषित किया जबकि एमडीयू रोहतक चौथे स्थान पर रही
    • सभी चार टीमें अब 10 से 13 दिसंबर, 2018 को वेल्लोर तमिलनाडु में होने वाली राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं में  भाग लेंगी
    • “देश के सर्वश्रेष्ठ विद्यार्थी -खिलाड़ियों को ओलंपिक भागीदारी पर नजर रखते हुए कड़ी मेहनत करना जारी रखना चाहिए”: एलपीयू के डायरेक्टर जनरल

जालंधर: एसोसिएशन ऑफ इंडियन यूनिवर्सिटीज के छह दिवसीय नार्थ जोन इंटर-यूनिवर्सिटी बैडमिंटन (महिला) टूर्नामेंट-2018 का आज लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी में समापन हुआ, जहां दिल्ली विश्वविद्यालय ने जोनल चैंपियन के रूप में विजय प्राप्त की। टूर्नामेंट के आखिरी दिन खेले गए अन्य लीग मैचों में, पंजाब विश्वविद्यालय (चंडीगढ़) ने रनर अप और पंजाबी विश्वविद्यालय (पटियाला) को सेकंड रनर अप  घोषित किया। अब, चौथे स्थान पर रहे महर्षि दयानंद यूनिवर्सिटी (रोहतक) के साथ सभी पहले तीन प्राप्त करने वाली यूनिवर्सिटियां राष्ट्रीय अंतर विश्वविद्यालय बैडमिंटन (महिला ) टूर्नामेंट- 2018 में वेल्लोर (तमिलनाडु) में 10 से 13 दिसंबर, 2018 तक आयोजित होने वाले टूर्नामेंट में भाग लेंगे ।

पहले चार पदों के लिए आयोजित दो प्रतियोगिताओं के लिए, पंजाबी विश्वविद्यालय पटियाला ने एमडीयू रोहतक को 2-1 से हराया और एमडीयू को चौथे स्थान पर छोड़ दिया। एकल खिलाड़ियों के पहले मैच में, एमडीयू की  सीमा पंचल ने पीयू पटियाला की  अनम को 21-10 और 21-12 से दो सेटों में हराया; डबल्स में, पी यू  पटियाला की अनम और अनमोल ने एमडीयू की सीमा और आयुशी को 21-14 और 21-18 से हराया; जबकि, एकल के तीसरे सेट में, पीयू पटियाला की अनमोल ने आयुशी सिंह को 21-13 और 21-19 से हराया। इसी प्रकार, टूर्नामेंट का आखिरी मैच पहले दो पदों के लिए खेला गया, जिसमे दिल्ली विश्वविद्यालय ने पंजाब विश्वविद्यालय चंडीगढ़ को हराया। एकल के लिए मैच में, डीयू की नमिता ने पीयू चंडीगढ़ की दीपाशा को 27-17, 18-21 और 21-16 से हराया; जबकि, डबल्स में  डीयू की ही भव्या और अनामिका ने पीयू चंडीगढ़ की दीपाशा और आकांक्षी  को 21-14 और 21-15 से हराया। इन सभी मैचों के दौरान कितनी उत्सुकता रही होगी यह  मैच के स्कोर स्वंय बता रहे हैं  ।

ट्रॉफियों  को संबंधित खिलाड़ियों  को सौंपते हुए, एलपीयू के महानिदेशक इंजी एचआर सिंगला ने सभी खिलाड़ियों को अपने वर्तमान प्रदर्शन में सुधार जारी रखने के लिए कहा। उन्होंने ज़ोन के सर्वश्रेष्ठ विद्यार्थी -खिलाड़ियों को ओलंपिक खेलों और अन्य विश्व स्तरीय प्रतियोगिताओं पर भी अभ्यास करने के प्रति प्रेरित किया। एलपीयू परिसर में अपने अनुभव साझा करते हुए, डॉ शुभरा कथुरिया (दिल्ली विश्वविद्यालय), डॉ नीरू मलिक (पीयू चंडीगढ़), बैडमिंटन कोच डॉ जगदीश ने एलपीयू की आयोजन क्षमता की सराहना की और टूर्नामेंट के सुचारू संचालन के लिए खेल के एलपीयू विभाग की की भी प्रशंसा  की। अन्य सभी खिलाड़ियों, कोच और प्रबंधकों ने भी एल पी यू को सफल संचालन के लिए बधाई दी!

उल्लेखनीय है कि एलपीयू को एसोसिएशन ऑफ़ इंडियन यूनिवर्सिटीज (नई दिल्ली) द्वारा चैंपियनशिप के आयोजन  के लिए नामित किया  था, जहां ज़ोन के विभिन्न राज्यों की 34 टीमों ने भाग लिया। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रसिद्ध निदेशक खेल जीएनडीयू अमृतसर, डॉ सुखदेव सिंह ने एआईयू के आब्जर्वर  के रूप में इस कार्यक्रम की निगरानी बैडमिंटन कोच सुरेश (पटियाला), राकेश  (गुरदासपुर), हरकमल दीप (फाजिलका), करण (जालंधर) के साथ की।

 549 total views,  1 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *